सोनू गोयल हत्याकांड की जांच सीबीआई को सौंपी जाए

बारां के कांग्रेस नेता की हत्या के मामले में कांग्रेस ने दिया धरना, वक्ताओं ने सरकार व भाजपा को जमकर कोसा,जिला कलक्टर को दिया राज्यपाल के नाम ज्ञापन

0
1289
बूंदी। सोनू गोयल हत्याकांड को लेकर आयोजित हुए कांग्रेस के धरने को संबोधित करते युवा कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष एवं हिंडोली विधायक अशोक चांदना।

न्यूज चक्र @ बूंदी
कांग्रेस ने गुरुवार को जिला कलक्ट्रेट के बाहर बारां जिले के पार्टी नेता सोनू गोयल की हत्या के मामले में आरोपित बारां के भाजपा जिलाध्यक्ष नरेश सिंह सिकरवार को शीघ्र गिरफ्तार किए जाने सहित मामले की जांच सीबीआई से करवाने की मांग को लेकर धरना दिया। बाद मंे इस संबंध में जिला कलक्टर को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा। धरने को संबोधित करते हुए सभी वक्ताओं ने राज्य की भाजपा सरकार को जमकर कोसा।
धरने को सम्बोधित करते हुए युवा कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष एवं हिंडोली विधायक अशोक चांदना ने कहा कि भाजपा के राज में आमजन से लेकर हर आदमी त्रस्त है। उन्हांेने युवाओं का आह्वान करते हुए कहा कि वे इस कुशासन से लड़ने के लिए आगे आएं। इस देश का युवा जो सोच ले, वो कर सकता है। उन्होंने भाजपा के राज में महिलाओं पर भी अत्याचार बढ़ने का आरोप लगाया।
महिला आयोग की पूर्व राट्रीय अध्यक्ष ममता शर्मा ने कहा कि राज्य की मुख्यमंत्री महिला होने के बावजूद भी राज्य में महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं। नाबालिग बच्चियों के साथ रेप की घटनाएं हो रही हैं। आरोपी खुले आम घूमते रहते हैं। भाजपा के राज में कानून नाम की कोई चीज नहीं रह गई है।
विधानसभा के पूर्व उपाध्यक्ष रामनारायण मीणा ने कहा कि राज्य की मुख्यमंत्री तानाशाही रवैया अपनाकर हर गरीब व कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को कुचलना चाहती हैं। वे स्वयं खुद को मुख्यमत्री की बजाय महारानी कहलाना ज्यादा पसंद करती हैं।
पूर्व मंत्री हरिमोहन शर्मा ने सभी कार्यकर्ताओं का आह्वान करते हुए कहा कि आने वाला समय इससे भी ज्यादा खराब आने वाला है। इससे मुकाबले के लिए सभी को एकजुट होने की आवश्यकता है।
कांग्रेस जिलाध्यक्ष सीएल प्रेमी ने धरने पर मौजूद कार्यकर्ताओं का आभार प्रकट करते हुए कहा कि यह अकेले सोनू गोयल की लड़ाई नहीं है। यह तो सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं की लड़ाई है। यह हमें मिलकर लड़नी है और जीत भी हासिल करनी है।
प्रदेश सचिव भरत शर्मा ने भी कहा कि इस भाजपा राज में जिस तरह खुलेआम गुण्डागर्दी हो रही है, उससे तो ऐसा लगता है कि यहां शासन नाम की कोई चीज ही नहीं है।
धरने को नगर परिषद के पूर्व सभापति सदाकत अली, पूर्व जिला प्रमुख राकेश बोयत,पूर्व उपप्रधान रामस्वरूप मीणा, ब्लॉक अध्यक्ष संजय तम्बोली ,शहाबुद्दीन जेड, सीताराम नागर, पूर्व उपप्रधान नरेन्द्र पुरी,डीसीसी महासचिव सत्येश शर्मा ,लटूर भाई,महावीर मीणा, महेश दाधीच, पार्षद जफर भाई , नगर अध्यक्ष काप्रेन राजपाल शर्मा, पूर्व अध्यक्ष अजय शर्मा,नरेन्द्र सिंह राणावत, नगर अध्यक्ष इन्द्रगढè राजू खां मेव, चर्मेश शर्मा, अशोक तोतला, मोहम्मद रऊफ, मनोज मीणा,सतीश गुर्जर व लक्ष्मण बैरवा ने भी संबोधित करते हुए राज्य सरकार को कोसा।
प्रवक्ता प्रेम शंकर बैरवा ने बताया कि इस दौरान बून्दी प्रधान मधु शर्मा ,उप सभापति डॉ. हिना अगवान,बाबूलाल वर्मा, जगरूप सिंह रधावा आदि भी मौजूद रहे। संचालन सेवा दल के पूर्व मुख्य संगठक गोपाल दाधीच ने किया ।