राष्ट्रीय युवा कवि अधिवेशन में जुटी देशभर की प्रतिभाएं

प्रयास साहित्य संस्था ने किया आयोजन, कविता पाठ भी हुआ

0
201

न्यूज चक्र @ कोटा
प्रयास साहित्य संस्था का प्रथम युवा कवि अधिवेशन बुधवार को विनोबाभावे नगर स्थित कबीर पारख आश्रम में हुआ। संस्था के राष्ट्रीय संयोजक कवि कुलदीप विद्यार्थी ने बताया कि कार्यक्रम की अध्यक्षता कबीर पंथ के संत प्रभाकर ने की। मुख्य अतिथि कुंजबिहारी गौतम थ्ो। वहीं विशिष्ट अतिथि पानाचंद प्रजापति रहे।
इस अवसर पर रामनारायण मीणा हलधर ने देशभर से आए नवोदित कवियों को गजल, कविता, और दोहों के बारे में जानकारी दी। साथ ही नवोदित कवियों ने अपनी-अपनी विधा में काव्य पाठ कर अपनी प्रतिभा को नए आयाम देने की कोशिश की। इस दौरान रात्रि में हुए अखिल भारतीय कवि सम्मलेन में दादरी से आए देव नागर ने सुरा और सुंदरी में लीन हैं जवान सारे, बोलो मेरे देश को चलाने कौन आएगा, कुलदीप विद्यार्थी ने चांद की भी चमक चुरा लाऊंगा, तुझसे ज्यादा चमकता दिखा जो मुझे ….डॉं. ऋतुराज (शाजापुर) ने वन्देमातरम का विरोध करें खा के हिन्द का नमक, ऐसे नमक हरामियों के शीश काट लेंगे हम जैसी रचनाएं प्रस्तुत कीं। इस क्रम में नेहा सिंह (मुम्बई) ने तुम बनो तो कन्हैया हमारे लिए, मीरां बन के तुम्हारे ही गुण गाऊंगी, भरत सिंह राव ने हिन्दुस्तान की आन-बान हूं, मेरा नाम तिरंगा है, निषमुनि गौड़ ने हम रंग में, वो जंग में हैं, रितेश डी नायक (भोपाल) ने दूर तुमसे तो होना नहीं था मगर…, नयन शर्मा (कोटा) ने है अमर बलिदान उनका, वो कभी मरते नहीं है कविता प्रस्तुत की। मीनू शर्मा ने भी काव्य पाठ किया।