मनरेगा को बंद करने की साजिश कर रही केन्द्र सरकार: धारीवाल

पूर्व मंत्री ने कहा-नई नगर पालिकाओं का गठन हुआ तो ग्रामीणों का रोजगार छिनना तय

3
288

न्यूज चक्र @ कोटा
केन्द्र सरकार के राज्य में 112 नई नगर पालिकाएं गठन करने के फैसले के पीछे ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों के रोजगार की महत्वपूर्ण योजना मनरेगा को खत्म करने की मंशा है। इससे ग्रामीण क्षेत्रों का विकास तो रुकेगा ही, रोजगार के लिए भी गरीब ग्रामीणों को दर-दर भटकना पड़ेगा। राज्य के पूर्व मंत्री शांति धारीवाल ने यह आरोप लगाया है।
धारीवाल ने अपने एक बयान में केन्द्र व राज्य सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि इन नई नगर पालिकाओं के गठन से ग्रामीण इलाकों में हालात दिनों-दिन खराब होते चले जाएंगे। इसके बाद न तो केन्द्र सरकार केन्द्रीय ग्रामीण विकास योजना का बजट ग्रामीण इलाकों को देगी और न ही मनरेगा के तहत ग्रामीणों को रोजगार ही दिया जाएगा। इसके साथ ही राज्य सरकार का खाली खजाना ग्रामीण क्षेत्रों के लिए मुसीबत का सबब बन जाएगा। धारीवाल ने मांग की है कि सरकार पहले शहरी क्षेत्रों के साथ मोैजूदा पालिकाओं में ही बुनियादी सुविधाएं मुहैया करवाए। मगर सरकार इस बात पर ध्यान नहीं देकर मनरेगा को खत्म करके ग्रामीणों को मिल रही मजदूरी को छीनने के प्रयास में लगी हुई है।