गोदाम में घातक रसायन से पका रहे थे आम, स्वास्थ्य विभाग ने की कार्रवाई

0
765
बूंदी। सम्भागीय खाद्य सुरक्षा अधिकारी अरुण सक्सेना व उनकी टीम फलों के गोदाम से बरामद कैल्शियम कार्बाइड की पुड़ियां जब्त करते हुए।

न्यूज चक्र @ बूंदी

स्वास्थ्य विभाग की टीम ने रविवार को शहर में फलों के एक गोदाम में कार्रवाई कर आमों को कैल्शियम कार्बाइड से पकाते हुए पाया। यहां से इस घातक रसायन की कुल 65 पुड़ियां जब्त कीं। साथ ही सड़े-गले आमों के दो कर्टन नष्ट करवाए। फल विक्रेता को आगे से ऐसा नहीं करने के लिए पाबंद भी किया गया। सम्भागीय खाद्य सुरक्षा अधिकारी अरुण सक्सेना की अगुवाई में यह कार्रवाई की गई।

बूंदी। फलों के गोदाम में मिले सड़े-गले फल।
बूंदी। फलों के गोदाम में मिले सड़े-गले फल।

सक्सेना ने बताया कि नई धानमंडी के पीछे रामाकृष्णा स्कूल के पास यह गोदाम स्थित है। यहां आम के तीन कर्टन में कैल्शियम कार्बाइड की बीस पुड़ियां मिलीं। साथ ही एक अन्य कर्टन में भी कैल्शियम कार्बाइड की 45 और पुड़ियां मिलीं। इन सभी को जब्त कर लिया गया।

दो लाख तक का हो सकता है जुर्माना

सम्भागीय खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2006 विनिमय 2011 के तहत कोई भी व्यक्ति कैल्शियम कार्बाइड से पकाए गए फलों का विक्रय या भंडारण नहीं कर सकता है। साथ ही किसी भी प्रयोजन के लिए अपने पास नहीं रख सकता है। ऐसा करना खाद्य सुरक्षा अधिनियम की धारा 2,3,5 का उल्लंघन है। धारा 58 के तहत ऐसा करने पर दो लाख रुपए तक का जुर्माना हो सकता है। कैल्शियम कार्बाइड कैंसर कारक है।

दूसरी ओर इस कार्रवाई से अलग शहर के ही बाहरली बूंदी व छत्रपुरा क्षेत्र में ऐसे कई गोदाम बताए जा रहे हैं, जहां इसी प्रकार रासायनिक प्रक्रिया से फलों को पकाया जाता है | क्षेत्रवासी ऐसे गोदामों से खासे परेशान हैं | वहीं इनके खिलाफ कार्रवाई नहीं होने से शहरवासी सवाल उठा रहे हैं |

बूंदी। सम्भागीय खाद्य सुरक्षा अधिकारी सक्सेना व उनकी टीम गोदाम में आम के कर्टन से कैल्शियम कार्बाइड की पुड़ियां निकालते हुए।
बूंदी। सम्भागीय खाद्य सुरक्षा अधिकारी सक्सेना व उनकी टीम गोदाम में आम के कर्टन से कैल्शियम कार्बाइड की पुड़ियां निकालते हुए।