प्रशासन की वादाखिलाफी पर महिलाओं व बच्चों का प्रदर्शन

नानकपुरिया के लिंक रोड का मामला, नेतृत्व कर रहे एनएसयूआई के पूर्व जिलाध्यक्ष की गिरफ्तार से और भड़का मामला, महिलाओं की पुलिस से हुई हल्की झड़प, शाम को जमानत पर रिहा

314
979
बूंदी। नानकपुरिया गांव की महिलाएं सिटी कोतवाली के बाहर रामधुनी करते हुए।
 बूंदी। नानकपुरिया के बच्चे अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन करते हुए।

बूंदी। नानकपुरिया के बच्चे अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन करते हुए।

न्यूज चक्र @ बूंदी
शहर से सटे हुए नानकपुरिया गांव की महिलाओं व बच्चों ने गुरुवार को प्रशासन पर वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए पहले कलक्ट्रेट पर पदर्शन किया। वहां इनका नेतृत्व कर रहे एनएसयूआई के पूर्व जिलाध्यक्ष देवराज गोचर को गिरफ्तार कर लेने पर महिलाएं सिटी कोतवाली आ गईं। वे यहां बाहर बैठ कर रामधुनी करने लगीं। वहीं पुलिस जब गोचर को गिरफ्तार करने लगी तो कई महिलाएं पुलिस से उलझ पड़ीं। इस दौरान इनकी आपस में झड़प भी हुई। कुछ महिलाएं तो पुलिस की गाड़ी में चढ़ने का प्रयास करने लगीं।
यह मामला क्वारती में बनाई जा रही नई धानमंडी को लेकर है। नानकपुरिया से इसके लिए लिंक रोड बनाया जा रहा है। इसके लिए कुछ दिन पूर्व सौ फीट के दायरे में आ रहे निर्माणों को अतिक्रमण मान कर हटाया जाना शुरू किया गया था। इसका ग्रामीणों ने जबरदस्त विरोध किया था। इसको लेकर पूरे प्रशासन को मौके पर पहुंच जाना पड़ा था। बाद में प्रशासन की ओर से इन्हें सौ फीट की जगह सत्तर फीट के ही मकान हटाए जाने का आश्वासन दिया था। मगर इसके बावजूद भी प्रशासन ने सौ फीट के दायरे में आ रहे निर्माणों को इसके लिए चिह्नि्त करना शुरू कर दिया। नानकपुरियावासी इसी बात से आक्रोशित हैं। शाम को गोचर को जमानत पर रिहा कर दिया गया।

कांग्रेस बर्दाश्त नहीं करेगी

इस मामले पर राज्य के पूर्व मंत्री व कांग्रेस नेता हरिमोहन शर्मा ने कहा कि लोकतंत्र में शांति से प्रदर्शन करने का सभी को अधिकारी है। ऐसा करते हुए गोचर को शांतिभंग में गिरफ्तार कर लेना पुलिस व प्रशासन का दमनकारी कृत्य है। वह गरीबों व बेसहारों के हक की लड़ाई लड़ रहा है। कांग्रेस इस बात को बर्दाश्त नहीं करेगी।