बदरंग हो रही हैं ताज में शाहजहां-मुमताज की कब्रें

ताज के तहखाने में बनी कब्रें पीली पड़ने लगी हैं, वहीं तहखाने वाला कमरा काला

1
565

न्यूज चक्र @ सेन्ट्रल डेस्क

आगरा में स्थित विश्व प्रसिद्ध ताजमहल में जमीन के अंदर बनीं तत्कालीन मुगल बादशाह शाहजहां और उनकी बेगम मुमताज की कब्रें जहां बदरंग हो पीली पड़ रही हैं, वहीं यह तहखाने वाला कमरा काला पड़ता जा रहा है।
बाहर से तो ताज की सफेदी बरकरार रखने के लिए उस पर मडपैक ट्रीटमेंट किया जा रहा है। मगर जिस मकसद से सदियों पहले ताजमहल बनवाया गया था, उन कब्रों की हालत बिगड़ रही है। शाहजहां के उर्स के दौरान तीन दिन के लिए खोले गए तहखाने के समय यह हकीकत सामने आई। यह उर्स 3 से 5 मई तक चला। इस दौरान पर्यटकों ने शाहजहां और मुमताज की कब्रें भी देखीं। गौरतलब है कि हर साल इन तीन दिनों को छोड़ कर पूरे साल इन कब्रों वाला तहखाना बंद रहता है।