जिद से बनी देशभर में पहचान और पा लिया बड़ा सम्मान

4
376
बूंदी। डॉ. नरेन्द्र सिंह हाड़ा को सम्मानित करते प्रवर्धन सीड्स प्रा. लि. के जनरल मैनेजर एएस दलाल व रीजनल मैनेजर मनोज कुमार शारदा।

न्यूज चक्र @ बूंदी

दौलाड़ा के अपने खेत की 25 बीघा जमीन पर बेमौसम मक्का की शानदार पैदावार करने वाले डॉ. नरेन्द्र सिंह हाड़ा के लिए बुधवार का दिन एक और बड़ी खुशी लेकर आया। जिस कम्पनी के बीज उन्होंने बोये थे, उसके दिल्ली से आए जनरल मैनेजर व जयपुर से आए रीजनल मैनेजर ने उन्हें सम्मानित किया। इसके लिए डॉ. हाड़ा के खेत पर एक समारोह आयोजित किया गया था। यहां मौजूद ग्रामीण डॉ. हाड़ा को सम्मानित किए जाने से खुद भी गौरवान्वित महसूस कर रहे थे।
डॉ. हाड़ा को सम्मानित करने वालों में बीज कम्पनी प्रवर्धन सीड्स प्रा.लि. के जनरल मैनेजर एएस दलाल व रीजनल मैनेजर मनोज कुमार शारदा शामिल थे। यहां खास बात यह है कि जब रबी के सीजन में ही मक्का उगाने की जिद पर अड़े डॉ. हाड़ा इसका बीज खरीदने गए तो कम्पनी के स्थानीय प्रतिनिधि ने ही उन्हें यह रिस्क लेने से मना किया था। क्योंकि आमतौर पर मक्का खरीफ की फसल मानी जाती है। मगर डॉ. हाड़ा ने कम्पनी की सलाह को तो दरकिनार किया ही पिता, पत्नी व अन्य परिवारजनों की नाराजगी की परवाह भी नहीं की। यहां तक कि ग्रामीणों ने भी उनके इस प्रयोग को पागलपन करार दिया था। मगर जब परिणाम आया तो सब दंग रह गए। बीज कम्पनी प्रवर्धन सीड्स प्रा. लि. को भी पता चला तो उनके बड़े अधिकारी ही डॉ. हाड़ा को सम्मानित करने के लिए उनके खेत पर चले आए। मौके पर मौजूद ग्रामीण भी यह कहते सुनाई दिए कि इस बार तो डॉक्टर साहब ने कमाल कर दिया।