नेताजी से जुड़ी फाइलों की तीसरी खेफ सार्वजनिक, सरकार दिल्ली में बनवाएगी स्मारक

2
381

न्यूज चक्र @ नई दिल्ली

केन्द्रीय संस्कृति (स्वतंत्र प्रभार), पर्यटन (स्वतंत्र प्रभार) तथा नागर विमानन राज्यमंत्री महेश शर्मा ने  शुक्रवार को राष्ट्रीय अभिलेखागार में नेताजी सुभाष चन्द्र बोस से जुड़ी 25 फाइलों को सार्वजनिक करने के साथ उन्हें वेब पोर्टल www.netajipapers.gov.in पर ऑनलाइन भी कर दिया। यह नेताजी से जुड़ी सार्वजनिक की गईं फाइलों की तीसरी खेप है। इस अवसर पर मंत्री शर्मा  ने कहा कि लंबे समय से लंबित मांग को पूरा करने के लिए सरकार दिल्ली में नेताजी सुभाष चन्द्र बोस का स्मारक बनवाएगी।

शर्मा ने कहा कि नेताजी से जुड़ी फाइलों को गोपनीयता सूची से हटाकर उन्हें सार्वजनिक करने की प्रक्रिया एक सतत प्रक्रिया है। इसे लोगों की लगातार की जा रही मांग के मद्देनजर सार्वजनिक किया जा रहा है, ताकि वह इन्हें पढ़ सकें। इसके अलावा सार्वजनिक की गई ये फाइलें स्वतंत्रता संग्राम का नेतत्व करने वाले सेनानियों पर आगे का शोध करने में उनकी मदद करेंगी। सार्वजनिक की गई इन 25 फाइलों की खेप में 05 फाइलें प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) से, 05 फाइलें गृह मंत्रालय (एमएचए) से और 15 फाइलें विदेश मंत्रालय (एमईए) से हैं। ये फाइलें 1956 से 2009 की अवधि से संबंधित हैं।

नेताजी से जुड़ी 100 फाइलों की पहली खेप सबसे पहले 23 जनवरी, 2016 को नेताजी के जन्मदिन की 119 वीं सालगिरह के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा वेब पोर्टल www.netajipapers.gov.in पर सार्वजनिक की गई थी। 50 फाइलों की दूसरी खेप महेश शर्मा द्वारा 29 मार्च, 2016 को वेब पोर्टल पर जारी की गई थी। इन फाइल्स ने उस विशेष रूप से गठित समिति की जांच को पार कर लिया, जिसमें अभिलेखागार क्षेत्र के विशेषज्ञ होते हैं, जो इन पहलुओं पर नजर रखते हैं |