अब पोलियो की खुराक के साथ बच्चों को इन एक्टिवेटेड पोलियो वेक्सीन का इंजेक्शन भी

2
270

न्यूज चक्र @ बूंदी

बच्चों को पोलियो के खतरे से बचाने के लिए डबल सुरक्षा देने की चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने योजना तैयार कर ली है। अब एक अप्रेल से पोलियो की खुराक के साथ बच्चों को ‘इन एक्टिवेटेड पोलियो वेक्सीन का इंजेक्शन भी लगाया जाएगा।

जिलेभर के चिकित्सा संस्थानों में इसको लेकर तैयारियां शुरू कर दी गई है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के आरसीएचओ डॉ. जेपी मीणा ने बताया कि बच्चों को पोलियो से बचाने के पोलियो की खुराक के साथ इंजेक्शन लगाया जाएगा। पोलियो की तीसरी खुराक पिलाने के दौरान दाहिनी जांघ पर इंजेक्शन लगाया जाएगा। इससे शत- प्रतिशत पोलियो की रोकथाम हो जाएगी। उन्होंने बताया कि जिलेभर के सभी चिकित्सा संस्थानों पर इंजेक्शन की सप्लाई भेज दी है।

अगले माह बंद होगी दवा 

पोलियो की वर्तमान में पिलाई जा रही ट्राइवेलेंट ओरल वेक्सीन 25 अप्रेल से बंद हो जाएगी। इसके बाद सभी सरकारी अस्पतालों में बायवेलेंट ओरल पोलियो वेक्सीन बच्चों को दी जाएगी। आरसीएचओ ने बताया कि वर्तमान में पिलाई जा रही ट्राइवेलेंट ओरल पोलियो वेक्सीन में पी-1, पी-2 व पी-3 वायरस एंटीजन है।

पी-2 देशभर से खत्म हो चुका है। अब बच्चों को इस वायरस की जरूरत नहीं। ऐसे में सरकार ने बायवेलेंट ओरल पोलियो वेक्सीन में पी-1 व पी-3 वायरस एंटीजन शामिल किया है। पी-2 को दवा में से हटा दिया गया है, ताकि वायरस के अनावश्यक सेवन से बच्चों को बचाया जा सके। उन्होंने बताया कि 25 अप्रेल तक जिलेभर के चिकित्सा केन्द्रों पर मौजूद पुरानी दवा को एकत्रित कर लिया जाएगा। ताकि इसका प्रयोग बंद हो सके।