पीओके में दिखी चीनी सेना, वैली में सुरंग खोदने में मदद करने का अंदेशा

    10
    1178

    न्यूज चक्र @ श्रीनगर / सेन्ट्रल डेस्क

    लद्दाख इलाके के बाद अब जम्मू-कश्मीर की सीमा पर भी चीनी सेना की गतिविधियां बढ़ने से भारत की चिता बढ़ गई है। चाइनीज लिबरेशन आर्मी के जवानों को पाकिस्तान ऑक्युपाइड कश्मीर (पीओके) की सीमा पर देखा गया है। भारतीय सेना ने वरिष्ठ सीएलए अधिकारियों को नोगांव सेक्टर में देखा है।
    सूत्रों के अनुसार चीनी सेना किसी निर्माण कार्य में पाक की मदद के लिए सीमा पर पहुंची है। हालांकि सेना ने अभी तक इस मामले पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। सीएलए ट्रूप सबसे पहले 2015 में सीमा पर देखा गया था। चीनी सरकार की चाइना गेजुबा ग्रुप कम्पनी लिमिटेड झेलम-नीलम पर 970 मेगावाट के पावर प्रोजेक्ट के लिए निर्माण का काम कर रही है।
    यह प्रोजेक्ट भारत की ओर से पूर्वी कश्मीर के बांदीपुर में चालू किए गए किशनगंगा पावर प्रोजेक्ट के जवाब में शुरू किया गया है। यह प्रोजेक्ट किशनगंगा नदी से झेलम नदी की ओर बन रहा है।
    सूत्रों का यह भी कहना है कि चीनी सेना लीपा वैली में सुरंग खोदेगी। यह इलाका पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में है। यह रास्ता काराकोरम हाईवे पर एक और विकल्प होगा।