जयपुर, जोधपुर व कोटा में कायस्थ समाज के छात्र-छात्राओं को मिला घर जैसा अपनत्व

समाज के युवाओं की टीम ने अन्य जिलों से रीट परीक्षा देने आए चित्रांश बच्चों को आवास व भोजन सहित अन्य सुविधाएं मुहैया कराई

4
537

न्यूज चक्र @ जयपुर / जोधपुर / कोटा / सेन्ट्रल डेस्क

अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) के दौरान रविवार को राज्य में कई जगह कायस्थ समाज के युवाओं ने उनके शहर में परीक्षा देने आए समाज के छात्र-छात्राओं को हर तरह की सुविधा मुहैया कर मिसाल कायम की। समाज के बुजुर्गों ने इसे समाज एकता को और बढ़ाने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम बताने के साथ अन्य समाजबंधुओं को प्रेरणा देने वाला प्रयास भी बताया। साथ ही आशा जताई कि यह कार्य आगे बड़ा और संगठित रूप लेगा।
न्यूज चक्र को प्राप्त हुई जानकारी के अनुसार जयपुर में इस पुनित कार्य के अगुआ बने चित्रांश ललित सक्सेना,नितिन माथुर, विवेक सक्सेना, अखिलेश माथुर, विनय सक्सेना, अनमोल माथुर आदि बने। इस कर्मठ टीम ने एक दिन पूर्व से ही अन्य जिलों से आए चित्रांश छात्र-छात्राओं को फार्म हाउस पर ठहराने के अलावा भोजन का भी प्रबंध किया। यहां तक कि परीक्षा केन्द्र तक लाने व ले जाने का भी इन्होंने ही प्रबंध किया। परीक्षा के बाद शाम को भी उन्हें भोजन करवा कर रवाना किया। ललित सक्सेना ने बताया कि सवाईमाधोपुर निवासी आलोक बिसारिया के पुत्र-पुत्री सहित 14 छात्र और 3 छात्राओं को उनकी टीम ने सुविधा प्रदान की। इनमें से कई छात्र-छात्राओं के तो परिजन भी साथ थे।
इसी प्रकार कोटा में ऐसा ही उल्लेखनीय कार्य चित्रांश अतिश सक्सेना के नेतृत्व में एडवोकेट पंकज सक्सेना, मयूर सक्सेना आदि ने किया। इनकी टीम भी एक दिन पूर्व से ही अन्य जिलों से कोटा परीक्षा देने आए चित्रांश छात्र-छात्राओं की आवभगत में लग गए थे। इन्होंने भी समाज के बच्चों को हर प्रकार की सुविधा उपलब्ध कराई। इस टीम के पास एक दिन पूर्व ही सात बच्चे परीक्षा देने आ गए थे।
जोधपुर में यह कार्य चित्रांश सुनिल माथुर ने किया। वह भी अन्य जिलों से उनके शहर में रीट की परीक्षा देने आए चित्रांश छात्र-छात्राओं को हर प्रकार से सुविधा उपलब्ध करवाने में अपने साथियों के साथ लगे रहे।
इन सभी ने न्यूज चक्र से अपने अनुभव शेयर करते हुए बताया कि बहुत आनंद व शांति का अनुभव हुआ। वे आगे इस तरह के कार्य को और भी अधिक सुव्यवस्थित रूप से करने की योजना बना रहे हैं। साथ ही अन्य जिलों के समाज बंधुओं से भी इस तरह के अभियान में भागीदारी निभाने की अपील की।
उल्लेखनीय है कि इन सभी युवाओं ने यह कार्य स्वप्रेरित हो कर किया। इसके लिए कई दिन पूर्व ही इन्होंने सोशल मीडिया पर अपने मोबाइल नंबर व संदेश शेयर कर दिए थे। इनमें उनके जिलों में बाहर से परीक्षा देने आने वाले चित्रांश छात्र-छात्राओं से अपील की गई थी कि वे उनसे सम्पर्क करें। उन्हें हर तरह की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

कोटा। अतिश सक्सेना।
कोटा। अतिश सक्सेना।
कोटा। एडवोकेट पंकज सक्सेना।
कोटा। एडवोकेट पंकज सक्सेना।
कोटा। मयूर सक्सेना।
कोटा। मयूर सक्सेना।
जयपुर। ललित सक्सेना
जयपुर। ललित सक्सेना
जोधपुर। सुनिल माथुर।
जोधपुर। सुनिल माथुर।

4 COMMENTS