जिला कलक्टर ने बिनायका और रनोदिया में की जनसुनवाई

3
604

ग्रामीणों से की शौचालय निर्माण को प्राथमिकता देने की अपील
न्यूज चक्र @ कोटा
जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में समस्याओं की सुनवाई कर मौके पर ही निराकरण करने के क्रम में शुक्रवार को जिला कलक्टर डॉ. रविकुमार सुरपुर ने पंचायत समिति इटावा की ग्राम पंचायत बिनायका व रनोदिया में आयोजित चौपाल में शिरकत की।
चौपाल में ग्रामीणों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन की मंशा गांव व जरूरतमंद लोगों की समस्याओं का घर बैठे ही निराकरण करना है। उन्होंने विभागवार योजनाओं की जानकारी के साथ-साथ ग्राम पंचायत में स्थित सरकारी कार्यालयों, प्रगतिरत विकास कार्यों व कार्मिकों के संबंध में फीड बैक भी लिया। सम्पूर्ण स्वच्छता अभियान के तहत शौचालय निर्माण की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि हर घर में शौचालय का निर्माण होने से ही बीमारियों से छुटकारा मिलेगा। साथ ही इससे मान-सम्मान भी बढेगा।
जिला कलक्टर ने कहा कि आरोग्य राजस्थान अभियान के तहत आने वाले समय में गांवों में शिविर आयोजित किये जाएंगे। इसमें चिह्नि्त बीमारियों का घर बैठे उपचार भी होगा व परामर्श भी दिया जाएगा। उन्होंने मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान की चर्चा करते हुए कहा कि गांवों को जल के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने के लिए 17 जनवरी से अभियान चलाया जाएगा। इसमें जल संरक्षण के लिए ग्रामीणों को स्वप्रेरित होकर भागीदारी निभानी होगी। उन्होंने कहा कि जल की बचत व वर्षा जल का संरक्षण हमें दैनिक जीवन में अपनाना होगा।
ग्राम बिनायका में ग्रामीणों द्बारा फसल खराबे का मुआवजा गणेशगंज की ग्राम सेवा सहकारी समिति के स्थान पर बिनायका से करवाने की मांग करने पर डॉ. सुरपुर ने सहकारी बैंक के अधिकारी व तहसीलदार को गांवों में भिजवाने का आश्वासन दिया। चौपाल में विशेष योग्यजन को दिये जाने वाले परिलाभ के लिए आवेदन प्राप्त होने पर मौके पर ही आवेदन पत्र की जांच करवाकर स्वीकृत करने के निर्देश दिये। उन्होंने ग्राम सचिव को हिदायत दी कि कोई भी आवेदन लम्बित पाए जाने पर अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने अटल सेवा केन्द्र के रिकॉर्ड संधारण का भी निरीक्षण किया।
ग्राम रनोदिया में आयोजित चौपाल में ग्रामीणों द्बारा उप स्वास्थ्य केन्द्र समय पर नहीं खुलने की जानकारी देने पर जिला कलक्टर ने चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को आकस्मिक जांच कर दोषी पाए जाने पर कार्यवाही करने के निर्देश दिए। गांव में पेयजल में टीडीएस की मात्रा अधिक पाए जाने की जानकारी मिलने पर उन्होंने जलदाय विभाग के अधिकारियों से विस्तार से जानकारी प्राप्त की। जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियंता ने बताया कि रनोदिया में आरओ प्लांट व ट्यूबवैल स्वीकृत हो गया है। इन्हें स्थापित करने की कार्यवाही चल रही है। इसमें सभी ग्रामीणों को पेयजल प्राप्त करने के लिए एटीम की तर्ज पर कार्ड जारी किया जाएगा।
जिला परिषद के सीईओ जुगल किशोर मीणा ने पंचायत राज विभाग की योजनाओं की जानकारी देते हुए कहा शौचालय निर्माण को गति प्रदान करने को कहा। उन्होंने ग्राम पंचायतों में स्वीकृत आवासों के अधूरे निर्माण को गंभीरता से लेते हुए समय पर पूर्ण नहीं कराने वाले व्यक्तियों के खिलाफ कार्यवाही करने के निर्देश दिये। इस अवसर पर कार्यवाहक एसडीएम (प्रशिक्षु आईएएस) चिन्मयी गौपालन, अधिशाषी अभियंता विद्युत आरसी गुप्ता, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक राकेश वर्मा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आरएन यादव आदि मौजूद थ्ो।