किसानों के लिए बनी सड़क अब कहलाएगी किसान पथ

4
639

????????????????????????????????????

 

कोटा जिले के प्रभारी मंत्री प्रभुलाल सैनी ने किया जिला दर्शन पुस्तिका का विमोचन

न्यूज चक्र @ कोटा

राज्य ने दो वर्ष के भीतर विकास की नई ऊंचाइयां छुई हैं। हर क्षेत्र में विकास के उल्लेखनीय कार्य हुए हैं। कौशल विकास एवं प्रशिक्षण के जरिये 38 हजार से अधिक युवा बेरोजगारों को रोजगार से जोड़ने का ऐतिहासिक कार्य हुआ है। मुख्यमंत्री स्वयं ‘आपका जिला आपकी सरकार’ के माध्यम से प्रदेश के विभिन्न हिस्सांे में जनता के बीच जाकर विकास की राहें खोल रही हैं। मंशा यह है कि प्रदेश का कोई हिस्सा विकास से अछूता नहीं रहे। इसी क्रम में अब से कृषि विपणन बोर्ड द्बारा बनाई जाने वाली सड़क का नाम किसान पथ रखा जाएगा। राज्य के कृषि मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री प्रभुलाल सैनी ने बुधवार को सूचना केन्द्र में यह बात कही। वे जिला दर्शन पुस्तिका के विमोेचन समारोह को संबोधित कर रहे थ्ो।
सैनी ने कहा कि कोटा भी दो वर्ष के दौरान चिकित्सा क्ष्ोत्र में उल्लेखनीय उपलब्धियों का साक्षी बना है। यहां सुपर स्पेशियलिटी सेवाओं के विस्तार, वरिष्ठजन वार्ड सहित अत्याधुनिक कीमती मशीनों व चिकित्सा सुविधाओं की उपलब्धता की दिशा में कार्य हुए हैं। कृषि मंत्री ने कोटा मू कृषि विश्वविद्यालय में कुलपति की नियुक्ति भी शीघ्र किए जाने की बात कही।
जिला दर्शन पुस्तिका का विमोचन
समारोह के आरंभ में जिला प्रभारी मंत्री सैनी सहित सांसद ओम बिरला, विधायक भवानी सिह राजावत, चन्द्रकांता मेघवाल, विद्याशंकर नन्दवाना, हीरा लाल नागर व संदीप शर्मा के अलावा पार्टी अध्यक्षों हेमन्त विजयवर्गीय व जयवीर सिह, संभागीय आयुक्त ओंकार सिह, आईजी विशाल बंसल, जिला कलक्टर डॉ. रविकुमार सुरपुर व एसपी (शहर) सवाई सिह गोदारा ने जिला दर्शन पुस्तिका का विमोचन किया।
इससे पूर्व नगर विकास न्यास सचिव डॉ. मोहन लाल यादव, एडीएम (प्रशासन) कल्पना अग्रवाल, जिला परिषद के सीईओ जुगल किशोर मीणा, आबकारी अधिकारी वासुदेव मालावत, एसीईओ जिला परिषद आरसी बैरवा, सहायक निदेशक सूचना एवं जनसम्पर्क हरिओम गुर्जर ने अतिथियों का माल्यार्पण किया। संचालन यज्ञदत्त हाड़ा ने किया।

‘किसान पथ’ के लिए हो गए आदेश जारी

इस अवसर पर सैनी ने यह घोषणा भी की कि गांवों के विकास का आधार बन रहे ग्रामीण गौरव पथ की तर्ज पर कृषि विपणन बोर्ड द्बारा बनाई जाने वाली सड़कों का नाम अब किसान पथ रखा जाएगा। इस संबंध में बुधवार को ही राजस्थान राज्य कृषि विपणन बोर्ड द्बारा आदेश जारी किए गए हैं। बोर्ड प्रशासक नरेन्द्र कुमार बंसल ने निर्देश दिए हैं कि इन सड़कों के निर्माण के उद्गम स्थल पर लगाए जाने वाले पट्ट पर सड़क की सम्पूर्ण जानकारी के साथ किसान पथ भी अंकित किया जाए।