पत्नी की हत्या करने के बाद पति भी फांसी के फंदे पर झूला

3
465

 

न्यूज चक्र @ बाड़मेर

अम्बेडकर कॉलोनी में मंगलवार को एक युवक ने अपनी पत्नी की चाकू से वार कर हत्या करने के बाद खुद को भी फांसी लगा ली। इस दम्पति के छह साल की बेटी और तीन साल का बेटा है।
पुलिस ने बताया कि घनश्याम (30) पुत्र जयराम अपने परिवार के साथ रहता था। उसके माता-पिता सुबह सात बजे वाली बस से रामदेवरा चले गए थ्ो। वहीं घनश्याम की 6 साल की बेटी व 3 साल का बेटा रिश्तेदार प्रताप के यहां खेलने गए थ्ो। इस दौरान दिन के ग्यारह बजे करीब किसी बात को लेकर घनश्याम ने अपनी पत्नी गीता (28) की चाकू मार कर हत्या कर दी। इसके बाद वह खुद भी पंखे से फंदा लगा कर आत्महत्या कर ली।
करीब आधा घंटे बाद जब दोनों बच्चे स्कूल जाने के लिए घर आए तो दरवाजा अंदर से बंद मिला। उनके आवाज देने पर भी दरवाजा नहीं खुला तो वे इस पर वे अपने रिश्तेदार के यहां लौट गए। बच्चों ने रिश्तेदार प्रताप को दरवाजा नहीं खुलने की बात बताई। बताया कि मम्मी-पापा दरवाजा नहीं खोल रहे। इस पर प्रताप उनके साथ उनके घर पहुंच गया। उसने भी दरवाजा खटखटाया, मगर अंदर से कोई जवाब नहीं मिला। इस पर उसने पार्षद व अन्य लोगों को बुलाकर दरवाजा तोड़ा। अंदर एक कमरे मंे घनश्याम को पंखे से लटक पाया। वहीं रसोई में उसकी पत्नी गीता का शव खून से सना हुआ मिला। उसके पास में एक चाकू पड़ा हुआ था।
पुलिस को इस बात की सूचना दी गई। इस पर एसपी परिस देशमुख, डीएसपी ओम प्रकाश उज्ज्वल व शहर कोतवाल बुधाराम बिश्नोई पहुंचे। इन्होंने मौका मुआयना कर आवश्यक कार्रवाई की। घटना के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया। पोस्टमार्टम के लिए शवों को अस्पताल की मोर्चरी में पहुंचा दिया गया था।