बूंदी शहर को अभयारण्य सीमा से मुक्त करने का रास्ता साफ, आतिशबाजी हुई

4
938

न्यूज चक्र @ बूंदी

सुप्रीम कोर्ट की एम्पावर्ड कमेटी ने शहर के वाशिंदों को बहुप्रतीक्षित सौगात दे दी। शहर के आबादी क्षेत्र को रामगढ़ विषधारी अभयारण्य से अलग करने की शुक्रवार को मंजूरी दे दी। जैसी ही यह खबर यहां पहुंची हर तरफ खुशी की लहर दौड़ गई। कई जगह आतिशबाजी कर व मिठाई बांट कर इसका जश्न मनाया गया। उल्लेखनीय है कि शहर का 357.81 हैक्टेयर हिस्सा अभयारण्य की सीमा में था। इससे शहरवासियों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था।
इस स्थिति के चलते शहर की कई आर्थिक गतिविधियां बाधित हो रही थीं। साथ ही विकास कार्य भी निर्बाध रूप से नहीं चल पा रहे थ्ो। सबसे बड़ी बाधा सम्पत्तियों की खरीद-फरोख्त में आ रही थी। अभयारण्य क्ष्ोत्र में होने से बैंकों से लोन भी नहीं मिल पा रहा था। नगर परिषद के आयुक्त पंकज मंगल ने बताया कि एम्पावर्ड कमेटी ने शुक्रवार दोपहर यह निर्णय किया। चुनावी वायदे में शहरवासियों को अभयारण्य सीमा से मुक्ति दिला देने का भरोसा देने वाले विधायक अशोक डोगरा का कहना है कि जो कहा था, वह पूरा कर दिया है। अब जल्द ही इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी हो जाएगा। इस नई व्यवस्था के हिसाब से ही वन विभाग नए सिरे से चारदीवारी बनाएगा।