तत्कालीन जिला कलक्टर तन्मय कुमार ने दी अदालत में गवाही

1
811

न्यूज चक्र @ कोटा
करीब तेरह साल पुराने एक रिश्वत के मामले में गिरफ्तार पटवारी के खिलाफ अभियोजन स्वीकृति जारी करने वाले तत्कालीन जिला कलक्टर तथा वर्तमान में मुख्यमंत्री कार्यालय में सचिव तन्मय कुमार बुधवार को गवाही के लिए अदालत में उपस्थित हुए।
रंगबाड़ी निवासी और उपतहसील कनवास के हल्का धुलेट में पटवारी रहे राम प्रसाद नागर के खिलाफ कनवास निवासी चन्द्र मोहन ने 25 अगस्त 2002 को एसबी चौकी कोटा में शिकायत दी थी। उसमें कहा गया था कि जमीन का इंतकाल खोलने की एवज में पटवारी रामप्रसाद 2500 रुपए की रिश्वत मांग रहा है। इस शिकायत का सत्यापन कर एसीबी की टीम ने 26 अगस्त को ट्रेप की कार्रवाई की। इसमें पटवारी को एक हजार रुपए रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया था।
इस मामले में पटवारी के खिलाफ अभियोजन स्वीकृति तत्कालीन जिला कलक्टर तन्मय कुमार ने जारी की थी। उसी मामले में कुमार भ्रष्टाचार निवारण न्यायालय में उपस्थित हुए और गवाही दी।
आम्र्स एक्ट के दो अन्य मामलों में भी अभियोजन स्वीकृति जारी करने पर उन्होंने एसीजेएम क्रम 5 व 2 उत्तर अदालत में भी बयान दिए।