भीमराज गुर्जर बने थोक फल-सब्जी मंडी समिति के उपाध्यक्ष

2
1610

 

न्यूज चक्र @ कोटा

थोक फल-सब्जी मंडी समिति के उपाध्यक्ष पद के उम्मीदवार के लिए किसी एक नाम पर सहमति नहीं बन पाई। इस पर विधायकों के सुझाव पर संचालकों ने दावेदारी जताने वाले प्रत्याशियों के नाम की पर्चियां डलवाई। इसमें 12 से 1० संचालकों ने भीमराज गुर्जर में विश्वास जताया। इस पर भाजपा ने गुर्जर को प्रत्याशी घोषित कर दिया। एक ही नामांकन दाखिल होने से गुर्जर को निर्विरोध उपाध्यक्ष घोषित कर दिया गया। इससे एक दिन पूर्व हुए चुनाव में ओम मालव अध्यक्ष निर्वाचित हुए थ्ो।
विधायक भवानीसिह राजावत, हीरालाल नागर तथा पार्टी के देहात अध्यक्ष जयवरीसिह मंडी समिति के संचालकों के साथ उपाध्यक्ष का नाम तय करने के लिए सुबह नौ बजे इन्द्रप्रस्थ औद्योगिक क्षेत्र स्थित एक रेजीडेन्सी में आ जुटे थ्ो।
यहां गुर्जर के अलावा मुकेश बघेल ने भी दावेदारी जताते हुए नामांकन भरने की इच्छा जताई। इस पर राजावत ने सुझाव दिया कि संचालक पर्ची डाल कर अपना पक्ष बता दें। इस पर पर्चियां डाली गईं। इनमें 12 संचालकों में से 1० ने गुर्जर को समर्थन दिया।
इसके बाद विधायक, भाजपा किसान मोर्चा के मंत्री मुकुट नागर व देहात उपाध्यक्ष मोहम्मद हुसैन के साथ गुर्जर मंडी समिति में नामांकन भरने पहुंचे। एक ही नामांकन आने पर गुर्जर को उपाध्यक्ष पद पर निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिया गया।

प्रत्याशी नहीं बनाने पर बघ्ोल ने जताया रोष, प्रदर्शन किया

इधर, उपाध्यक्ष की दावेदारी जताने के लिए संचालक मुकेश बघेल भी समर्थकों के साथ नामांकन भरने के लिए मंडी समिति पहुंचा। लेकिन समय निकल जाने के कारण वह नामांकन नहीं भर पाया। नाराज बघेल ने मंडी समिति कार्यालय के बाहर जनप्रतिनिधियों के खिलाफ प्रदर्शन किया। राज्य सरकार द्बारा मनोनीत किए गए संचालक का पत्र भी जला दिया। बघेल ने कहा कि जनप्रतिनिधियों ने उससे विश्वासघात किया है।

व्यापारियों ने भी जताई नाराजगी

संचालक अशोक अग्रवाल व शंकर बुधवानी ने व्यापारिक वर्ग को प्रतिनिधित्व नहीं दिए जाने पर विरोध जताया। साई बाबा थोक फ्रूट एण्ड वेजिटेबल मर्चेंट संघ के महासचिव संतोष मेहता ने कहा कि दोनों ही पदाधिकारी कृषक वर्ग के बनाए गए हैं। इससे व्यापारियों में रोष व्याप्त है। जबकि प्रदेश की सभी मंडियों में व्यापारी वर्ग के संचालक को उपाध्यक्ष बनाया जाता है।