मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने ट्वीट कर कलाकारों से माफी मांगी

1
216

जयपुर आर्ट समिट में शनिवार को हुए घटनाक्रम का मामला

न्यूज चक्र @ जयपुर

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने जवाहर कला केन्द्र में जयपुर आर्ट समिट के दौरान शनिवार को गुब्बारे के सहारे गाय का स्कल्पचर लटकाने वाले कलाकार से हुई अभद्रता को दुर्भाग्यपूणã बताया है। राजे ने इस संबंध में ट्वीट कर अपनी भावना प्रकट की। उन्होंने इसमें यह भी लिखा है कि घटना पर जयपुर पुलिस कमिश्नर ने माफी मांगी है। दोषी संबंधित थाना इंचार्ज और अन्य पुलिसकर्मी को हटा दिया है। उन्होंने विवादित कलाकृति के कलाकार से स्वयं वार्ता करने की भी जानकारी दी है।
उल्लेखनीय है आर्ट समिट में सिद्धार्थ नामक एक कलाकार ने गुब्बारे के सहारे गाय के स्कल्पचर को लटकाया था। सिद्धार्थ का इसके पीछे तर्क था कि वह धरती पर हो रही गायों की दुर्दशा को दर्शाते हुए यह बताना चाहता है कि ऐसे में उन्हें आसमान में ही रहना पड़ेगा। मगर पीपुल्स फॉर एनीमल व अन्य संगठनों के कार्यकर्ताओं ने जिस तरह से गाय के स्कल्पचर को लटकाया गया था, उसे गाय का अपमान बताते हुए हंगाम कर दिया था।
इस पर बजाज नगर थाना पुलिस ने वहां पहुंच पहले तो कलाकार से उस स्कल्पचर को उतारने के लिए समझाइश की। मगर वह नहीं माना। इस पर पुलिस व कलाकारों के बीच काफी तकरार हुई थी। सिद्धार्थ व अन्य कलाकार से पुलिस ने धक्का-मुक्की व खींचतान भी हुई। इस दौरान किसी प्रकार स्कल्पचर नीचे उतार लिया गया। फिर तीन कलाकारों को थाने ले जाया गया। हालांकि बाद में उन्हें उस स्कल्पचर को दुबारा नहीं लगाने की शर्त पर वापस छोड़ दिया गया था। इसके बाद पुलिस कुछ कलाकारों को पकड़कर थाने ले गई और गाय का पुतला दोबारा ना लगाने की शर्त पर थाने से जाने दिया।
इस मामले में कोई शिकायत नहीं होने के बावजूद जयपुर डीसीपी ईस्ट ने बजाज नगर थाना एसएचओ एके गुप्ता व कांस्टेबल को लाइन हाजिर कर दिया था। वहीं कार्यक्रम के आयोजक श्ौलेन्द्र भट्ट का कहना था कि मामला शांत हो गया है। इसलिए पुलिस के खिलाफ कोर्इ शिकायत करने की आवश्यकता नहीं रह गई थी।