भाजपा शहर जिला कोटा का बूंदी में आयोजित प्रशिक्षण शिविर सम्पन्न

7
808

भाजपा सिद्धांतवादी राजनीतिक दल – राजेन्द्र सिंह राठौड़

लोकतंत्र रक्षा हमारी सबसे बड़ी प्रतिबद्धता – मदन दिलावर

भारत माता के लिए सर्वस्व समर्पण ही हमारा अनुष्ठान – जटाशंकर शर्मा

हमारे राष्ट्रवाद का मूलमंत्र भारतमाता की जय – हेमन्त विजयवर्गीय

न्यूज चक्र @ बूंदी

भारतीय जनता पार्टी के पं. दीनदयाल उपाध्याय महाप्रशिक्षण अभियान के क्रम में भाजपा शहर जिला कोटा का जिला स्तरीय प्रशिक्षण वर्ग रविवार को सम्पन्न हो गया। इसका नेतृत्व कोटा शहर भाजपा जिलाध्यक्ष हेमन्त विजयवर्गीय ने किया। यह दो दिवसीय प्रशिक्षण यहां हरियाली रिसोर्ट में आयोजित किया गया था।
अंतिम दिन आयोजित चार सत्रों को राज्य के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री राजेन्द्र सिंह राठौड़, पूर्व मंत्री मदन दिलावर, कोटा भाजपा जिला अध्यक्ष हेमन्त विजयवर्गीय व वरिष्ठ भाजपा नेता जटाशंकर शर्मा ने सम्बोधित किया। इस दौरान महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष मधु शर्मा, प्रशिक्षण अभियान के जिला संयोजक कृष्णकुमार रामबाबू सोनी, जिला महामंत्री अरविन्द सिसोदिया व पूर्व जिला महामंत्री नेता खण्डेलवाल मंचासीन रहे। चारों सत्रों का अलग-अलग संचालन जिला उपाध्यक्ष त्रिलोक सिंह, जिला उपाध्यक्ष विशाल जोशी व प्रशिक्षण अभियान के सह संयोजक अर्थपाल सिंह ने किया।
प्रथम सत्र के मुख्य वक्ता चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री राजेन्द्र सिंह राठौड़ ने कार्यकताã के व्यक्तित्व विकास विषय पर संबोधन दिया। उन्होंने कहा कि पूरे देश में 11 करोड़ से अधिक और राजस्थान में 81 लाख से अधिक कार्यकर्ताओं का विश्व का सबसे बड़ा राजनीतिक दल भाजपा पूरी तरह सिद्धांतवादी संगठन है। भाजपा से व्यक्तिवाद के आधार पर अलग हुए व्यक्ति कहां गए, पता भी नहीं। वहीं सिद्धांतों पर अडिग रहे पं. दीनदयाल उपाध्याय चुनाव हार कर भी और ठा. भैरोंसिंह शेखावत जमींदारी प्रथा उन्मूलन कानून का साथ देकर आज भी हमारे बीच अमर हैं।
राठौड़ ने आगे कहा कि भाजपा मानव मूल्यों का आदर्श समाज बनाना चाहती है। उसका नेतृत्व हमेशा कार्यकर्ताओं के बीच से ही उभर कर आगे जाता है। चाय बेचने वाला एक दिन प्रधानमंत्री बन जाता है। हमने सच्चे लोकतंत्र को विकसित किया है।
वरिष्ठ भाजपा नेता जटाशंकर शर्मा ने सैद्धांतिक अनुष्ठान विषय पर बोलते हुए कहा कि भाजपा का अनुष्ठान कोई नेता विश्ोष नहीं है। वंश विश्ोष नहीं है। जाति विश्ोष नहीं है। बल्कि भारत माता के लिए सर्वस्व समर्पण है। उन्होंने कहा कि हमारी रग- रग में समरसता है। हमने चरित्रवान देश का निर्माण किया है। हमारी संस्कृति में चरित्र सबसे महत्पवूर्ण है। भाजपा चरित्रवान कार्यकर्ताओं की पार्टी है।
पूर्व मंत्री मदन दिलावर ने तृतीय सत्र में भाजपा के इतिहास एवं विकास पर बोलते हुए कहा जनसंघ का जन्म देशहित के लिए हुआ था। यही दल अब भारतीय जनता पार्टी के नाम से है। हम सभी इसके कार्यकताã हैं। उन्हांेने कहा देश के हित के लिए हर मोर्चे पर हमने बलिदान दिया है। लोकतंत्र की रक्षा के लिए हम प्रतिबद्ध हैं। दिलावर ने जनसंघ से भाजपा तक की विकास यात्रा पर प्रकाश डाला।
भाजपा के जिला अध्यक्ष हेमन्त विजयवर्गीय ने सांस्कृतिक राष्ट्रवाद विषय पर बोलते हुए कहा हमारी संस्कृति वैदिक सभ्यता से प्रारम्भ होकर रामायण काल व महाभारत काल से होते हुए वर्तमान में है। हजारों लाखों वर्षों के संस्कारों से पल्लवित हमारे संस्कारमय समाज का राष्ट्रवाद भारतमाता की जय के मूल मंत्र में समाहित है। हम उस संस्कृति के लोग 2 3हैं, जो देश को भूभाग नहीं, बल्कि मां मानते हैं। माता मानने के भाव से देशहित के लिए समर्पित होना सबसे उच्च कोटी की देश सेवा हैं।
जिला महामंत्री अरविन्द सिसोदिया ने बताया कि प्रशिक्षण के अंतिम दिन प्रशिक्षण अभियान के संयोजक जिला उपाध्यक्ष कृष्ण कुमार सोनी रामबाबू, जिला महामंत्री अमित शर्मा, जिला महामंत्री जगदीश जिंदल, पूर्व प्रदेश मंत्री हीरेन्द्र शर्मा, पूर्व जिला महामंत्री नेता खंडेलवाल, दिनेश सोनी, छगन माहुर, विकास शर्मा, मनोजपुरी, प्रभा तंवर , तनुजा खन्ना, अनुसुईया गोस्वामी, जिला उपाध्यक्ष विशाल, जिला उपाध्यक्ष त्रिलोकसिंह, लक्ष्मणसिंह खींची व अशोक चौधरी, जिला मंत्री अर्थपाल सिंह, कैलाश गौतम, अमित दाधीच, एससी मोर्चा के जिला अध्यक्ष अशोक बादल, देबू राही, सचिन मिश्रा, श्याम गौड़, सुनील पोकरा, गोपालकृष्ण सोनी आदि भी मौजूद रहे।

न्यूज चक्र का सवाल—-अपने संबोधन में राजेन्द्र सिंह राठौड़ ने भैरोंसिंह शेखावत के नाम के आगे ठा. संबोधन लगाना क्यों आवश्यक समझा? आमतौर पर उन्हें इस संबोधन के साथ संबोधित नहीं किया जाता है। क्या यह राठौड़ की जातिगत सोच को परिलक्षित नहीं करता है?