राजस्थानी चित्रकारी से सजे ऑटो रिक्शा में बैठकर निकलीं वसुंधरा

0
366


न्यूज चक्र @ जयपुर

जयपुर की सड़कों पर मंगलवार को मुख्यमंत्री वसुंधराराजे ने राजस्थानी लोक चित्रकारी से सजे-धजे एक ऑटो रिक्शा में सवारी की। राजे अपने सरकारी निवासी 13, सिविल लाइंस से इस ऑटो रिक्शा में बैठकर एसएमएस कन्वेंशन सेंटर पहुंचीं। इस दौरान राजे तो चेहरे पर हल्की मुस्कराहट लिए सामान्य नजर आ रहीं थीं। मगर ऑटो चालक महमूद कुरैशी की खुशी तो संभाले नहीं संभल रही थी। उसने तो इस बात की कभी कल्पना भी नहीं की होगी।
दरअसल मुख्यमंत्री वसुंधरा ने राजस्थान की कला एवं संस्कृति को देश-विदेश में पहचान दिलाने के लिए ऑटो रिक्शाओं को लोककथाओं पर आधारित चित्रों से सजवाने की पहल की है। इसी कड़ी में सुबह नगर निगम के कमिश्नर आशुतोष एटी पेंडणेकर लोककलाओं से सजे कुछ ऑटो रिक्शा व उनके चालकों को लेकर मुख्यमंत्री निवास पहुंचे। उस वक्त मुख्यमंत्री एसएमएस कन्वेंशन के लिए निकलने वालीं थीं। बाहर खड़े ऑटो रिक्शाओं में से राजे को एक ऑटो रिक्शा की सजावट कुछ खास लगी। इस पर उन्होंने उसके चालक महमूद कुरैशी से उन्हें एसएमएस कन्वेंशन ले चलने का आग्रह किया। इस पर महमूद की तो खुशी का ठिकाना ही नहीं रहा। वसुंधरा यहां से आशुतोष एटी के साथ ऑटो रिक्शा में बैठकर एसएमएस कन्वेंशन पहुंचीं।

राजस्थानी कला के प्रचार का माध्यम बनेंगे ऑटो रिक्शा

राजे की पहल पर रिसर्जेंट राजस्थान पार्टनरशिप समिट के दौरान जयपुर में दौड़ने वाले ये ऑटो रिक्शा राजस्थानी कला का प्रचार-प्रसार करेंगे। इसके लिए करीब 100 ऑटो रिक्शाओं पर राजस्थानी लोक कलाओं के चित्र बनाए जाएंगे।
जयपुर नगर निगम 20 से 22 नवम्बर तक शहर में पांच स्थानों सांगानेर एयरपोर्ट, हवामहल, आमेर किला, जलमहल की पाल व अल्बर्ट हॉल पर कॉर्टिस्ट ऑटो आर्ट प्रदर्शनी लगाएगा। इसमें ऑटोमोबाइल से संबंधित 300 पेंटिग्स और कलाकृतियों के साथ ही 20 विटेज कारों का प्रदर्शन भी होगा।