आईपीएस ममता राहुल बनीं मिसाल

    9
    2294

     

    न्यूज चक्र @ सेन्ट्रल डेस्क

    वर्तमान में बीकानेर एसपी (एसीबी) ममता राहुल नवजात बच्चियों को बचाने के लिए मुहिम छेड़ कर मिसाल बन चुकी हैं। उनके इस प्रयास के सकारात्मक परिणाम भी सामने आए।
    ममता ने बताया कि वर्ष 2०11 में वह जैसलमेर एसपी थीं। उस दौरान वहां जन्म लेते ही एक बच्ची की हत्या कर देने का मामला सामने आया। आरोपी बच्ची के पिता व अन्य परिवारजनों के खिलाफ आईपीसी की धारा 3०2 के तहत हत्या का मामला दर्ज कर कार्रवाई की गई। नतीजतन आरोपियों को सजा मिली। इस घटना ने ममता को भीतर तक छू लिया था। उस क्ष्ोत्र में बच्चियों को जन्म लेते ही मार देने के मामले आम थ्ो। ऐसे मामले रोकने के लिए ममता ने जैसलमेर की तत्कालीन जिला कलेक्टर श्रुति त्यागी के साथ मिलकर गांव-गांव में जागरुकता अभियान चलाया। जिले के बड़े अधिकारियों को अपने बीच आकर ऐसा संदेश देते देख लोगों पर खासा प्रभाव पड़ा। इन दोनों अधिकारियों के महिलाएं होने से भी यह अधिक प्रभावी रहा। इसका सुखद परिणाम यह रहा कि वहां नवजात बालिकाओं की हत्या करने के मामलों में कमी आई।