स्वागत के साथ वसुंधरा के विरोध प्रदर्शनों का सिलसिला भी जारी

3
593

chakra 5 chakra 6 chakra 7 pareu chakra 8 gadaraजगह-जगह पुतले फूंक कर की जसवंत सिंह के समर्थन में नारेबाजी
धुर विरोधी जसवंत सिंह के पोस्टरों से अधिक गहराई राजनीति

न्यूज चक्र बाड़मेर

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का हर कार्यक्रम में शानदार अभिनंदन-स्वागत हो रहा है। दूसरी ओर शहर सहित ग्रामीण क्ष्ोत्रों में भी छोटे रूप में ही सही मगर विरोध प्रदर्शनों का दौर भी जारी रहा। वसुंधरा आज यहां तीन दिवसीय दौरे के तहत आई हैं।
उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री के विरोध की शुरुआत राजनीति में उनके कट्टर विरोधी रहे दिग्गज राजनेता पूर्व विदेश मंत्री जसवंत सिंह के पोस्टरों से हुई। हालांकि इन पोस्टरों में जसवंत सिंह ने वसुधरा राजे पर सीध्ो प्रहार नहीं किए हैं। मगर उनकी भाषा ही इन पोस्टरों के उद्देश्यों को दर्शाने के लिए काफी है। इन पोस्टरों में…… इस धरती का सम्मान मेरे लिए सर्वोपरि है के अलावा मेरी धरती, मेरे लोग, मेरा देश यही जीवन लक्ष्य, निज हित नहीं,मूल्यों की राजनीति, राजस्थान आगे रहे यही जीवन भर का लक्ष्य रहा जैसी बात लिखी हुई है। इन्हें बाड़मेर में हर कोई जसवंत सिंह का वसुंधरा राजे को विरोधात्मक संदेश देने का तरीका बता रहा है।
इसी के साथ परेऊ गांव, रामसर, पाकिस्तान की सीमा से लगे गडरा आदि ही नहीं राजकीय महाविद्यालय बाड़मेर तक में छात्रों के एक गुट ने जसवंत सिंह के समर्थन में नारेबाजी करते हुए वसुंधरा का पुतला फूंका । वसुंधरा राजे को विरोधात्मक संदेश देने का तरीका बता रहा है।
इसी के साथ परेऊ गांव, रामसर, पाकिस्तान की सीमा से लगे गडरा आदि ही नहीं राजकीय महाविद्यालय बाड़मेर तक में छात्रों के एक गुट ने जसवंत सिंह के समर्थन में नारेबाजी करते हुए वसुंधरा का पुतला फूंका । उल्लेखनीय है कि पार्टी में जसवंत सिंह व उनके पुत्र मानवेन्द्र सिंह से वसुंधरा की शुरू से ही टकराहट रही है। यह उस समय और ज्यादा मुखर हो गई जब लोकसभा का टिकट जसवंत सिंह की जगह वरिष्ठ कांग्रेसी रहे कर्नल सोनाराम को मिल गया। इसे वसुंधरा राजे की ही पसंद माना गया।