काॅलेज के बाहर कचरे से भरे टैक्टर हुए खाली, लोग बोले- नगरपालिका को यह क्या सूझा !

काॅलेज के बाहर कचरे से भरे टैक्टर हुए खाली, लोग बोले- नगरपालिका को यह क्या सूझा !

न्यूज़ चक्र, कोटपूतली। एलबीएस कॉलेज के सामने से पूतली की ओर जाने वाली सर्विस लाइन पर नगर पालिका ने आज कचरे से भरे ट्रैक्टर खाली करवा दिए, जिसके बाद यहां आवारा पशुओं का जमावड़ा हो गया और राहगीरों का निकलना मुश्किल हो गया। अति व्यस्त सड़क पर नगर पालिका द्वारा यूं कचरे के ट्रैक्टर खाली करवा देना आमजन में चर्चा का विषय रहा।

lbs college kotputli ke bhar

आपको बता दें कि कोटपूतली में हाईवे पर पुतली कट के बाद लगभग 2 किलोमीटर दूर कांग्रेस कार्यालय के सामने कट छोड़ा गया है, जिसके चलते शहरवासी यातायात आवागमन के लिए पुलिया से लगी सर्विस लाइन पर ही निर्भर है। लेकिन आज सुबह एलबीएस कॉलेज के बाहर सर्विस लाइन पर दिनदहाड़े नगरपालिका द्वारा कचरे के ट्रैक्टर खाली कर दिए जाने से लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

सांसद ने शुरू की कृषि बिलों की बात, विधायक ने छोड़ दी कुर्सी, बोले कोई राजनीतिक बात नहीं होगी !!

न्यूज़ चक्र ने एलबीएस कॉलेज के कार्यवाहक प्राचार्य योगेश शर्मा से जब जानकारी ली तो उन्होंने बताया कि नगरपालिका का यह एक गलत निर्णय है और इसके लिए नगर पालिका अधिशासी अधिकारी को मौखिक शिकायत दर्ज कराई गई है। कॉलेज शिक्षा का मंदिर है और उसके बाहर कचरे के ढेर बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे। वहीं नगर पालिका अधिशासी अधिकारी चंद्रकला वर्मा ने बताया कि एलबीएस कॉलेज के बाहर डाले गए कचरे को शीघ्र ही उठा लिया जाएगा।

नगर पालिका दफ्तर में शिकायत लेकर पहुंचे वार्ड 18 पार्षद प्रमोद गुरु जी ने बताया कि एलबीएस कॉलेज उनके वार्ड क्षेत्र में आता है और नगर पालिका द्वारा बगैर किसी इजाजत के या सलाह के कचरा डाला गया है जिस बाबत नगर पालिका अधिशासी अधिकारी से बात की जा रही है और यहां से कचरे को शीघ्र उठाया जाएगा।

कचरा उठाने के बजाय, खड्डे में दबाया

न्यूज़ चक्र द्वारा दोपहर में समाचार दिखाए जाने के बाद हरकत में आई नगरपालिका ने कचरे को सड़क से तो उठवा दिया लेकिन एलबीएस कॉलेज के बाहर की दीवार और नाले के बीच बने गड्ढे में कचरे को डलवाकर दबा दिया है। सड़क किनारे अब इस कचरे की वजह से आवारा पशुओं का जमावड़ा हो गया है, जो यहां से गुजरने वाले वाहन चालकों व राहगीरों को कभी भी कोई नुकसान पहुंचा सकते हैं। रिर्पोट- विकास वर्मा/सीताराम गुप्ता

 36 total views,  1 views today

कोटपूतली जयपुर समाचार