भारतीय समाज के संघर्ष की गाथा है पांचजन्य – द्वारिका प्रसाद

भारतीय समाज के संघर्ष की गाथा है पांचजन्य – द्वारिका प्रसाद

  • राष्ट्रीय विचारों की पत्रिका पांचजन्य का किया विमोचन

News Chakra @कोटपूतली। श्री राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण निधि समर्पण समिति कार्यालय पर राष्ट्रीय विचारों की पत्रिका पांचजन्य का विमोचन किया गया। इस मौके पर सेवा भारती के प्रांत संगठन मंत्री द्वारिका प्रसाद ने कहा कि पांचजन्य के इस अंक में श्रीराम जन्मभूमि के लिए भारतीय समाज के संघर्ष, संयम और न्यायोचित आकांक्षाओं के बारे में विस्तृत रूप से बताया गया है। इस अंक में राम मंदिर की संपूर्ण यात्रा का विस्तृत वर्णन किया गया है। साथ ही महंत नृत्य गोपाल दास, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, सेवानिवृत्त लोक सेवक नृपेंद्र मिश्र का साक्षात्कार भी प्रकाशित किया गया है।

भारतीय समाज के संघर्ष की गाथा है पांचजन्य - द्वारिका प्रसाद

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रांत प्रचार प्रमुख डॉ. महावीर कुमावत ने कहा कि राम मंदिर आंदोलन अन्याय के विरुद्ध आधुनिक इतिहास का सबसे बड़ा सामाजिक आंदोलन था। यह आंदोलन किसी सत्ता या वर्ग विशेष के विरोध में नहीं था। शासन के विरुद्ध आंदोलन सत्ता पलटते और सत्ता हांसिल करने के चक्कर में घूम कर रह जाते हैं। किंतु समाज को बार-बार एक साथ लाने वाले इस आंदोलन की विशेषता रही कि न तो राज्य सिंहासन इसकी इच्छा के केंद्र में था और न ही समुदाय विशेष से प्रतिशोध।

सम्पूर्ण समाज से अब समर्पण निधि के माध्यम से सम्पर्क कर सहयोग लिया जा रहा है। हर गांव व हर घर तक पहुंचने के लिये समाज के लोग राम मंदिर के लिये जुट रहे हैं। 30 जनवरी तक चैक के माध्यम से संग्रह किया जायेगा। इसके बाद घर-घर पहुंचने का अभियान चलाया जाएगा। इस दौरान समिति के कार्यकर्ता मौजुद रहे।

Subscribe us with E-mail:

 22 total views,  1 views today

कोटपूतली