एडीएम पर फर्जी समिति बनाने का आरोप, ग्रामीणों ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

एडीएम पर फर्जी समिति बनाने का आरोप, ग्रामीणों ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

  • कोटपूतली में अल्ट्राटेक सीमेन्ट व ग्रामीणों के बीच मामला फिर गर्माया
  • मोहनपुरा- जोधपुरा के बाद अब कूजोता गांव के उजड़ने की बारी

न्यूज़ चक्र, कोटपुतली। विकास वर्मा। कोटपूतली तहसील के कुजोता ग्राम वासियों ने कोटपूतली के तत्कालीन एडीएम सत्यवीर सिंह यादव पर अल्ट्राटेक सीमेंट प्लांट के साथ मिलीभगत कर फर्जी पुनर्वास समिति बनाने का आरोप लगाया है। कुजोता ग्राम वासियों ने आज गांव के शिव मंदिर में बैठक के बाद कोटपूतली एसडीएम सुनीता मीणा को ज्ञापन सौंपकर पुनर्वास समिति को निरस्त करवाने की मांग की है।

आपको बता दें कि 24 दिसंबर 2020 को तत्कालीन एडीएम डॉ सत्यवीर सिंह यादव की अध्यक्षता में कोटपूतली के कुजोता गांव के पुनर्वास के लिए एक समिति का गठन किया गया था, जिसमें कोटपूतली एसडीएम, तहसीलदार, हल्का पटवारी व सरपंच के अलावा ग्राम के छह व्यक्तियों को भी शामिल किया गया है इसी तरह अल्ट्राटेक सीमेंट से भी सदस्यों को शामिल किया गया है। इस समिति का काम अल्ट्राटेक सीमेंट प्लांट में ग्राम वासियों के बीच सहमति बनाकर गांव के पुनर्वास के लिए काम करना था। अब इसी समिति पर सवाल उठाते हुए ग्राम वासियों ने इसे फर्जी बताते हुए तत्कालीन एडीएम पर अल्ट्राटेक सीमेंट प्लांट से मिलीभगत के आरोप लगाए हैं।

समिति सदस्यों ने कहा- आरोप निराधार

इधर समिति के ग्राम सदस्यों गोकुल चंद कुमावत व पूर्व सरपंच नीलम सिंह ने न्यूज़ चक्र को जानकारी देते हुए बताया है कि समिति के फर्जी होने व मिलीभगत के आरोप बेबुनियाद और निराधार हैं। असल में अभी तक पुनर्वास समिति की कोई आधिकारिक बैठक ही नहीं हुई है, ऐसे में समिति सदस्यों पर सवाल उठाना गलत है। समिति की जब भी बैठक होगी निर्णय ग्राम हित में ही लिया जाएगा।

ज्ञापन पर 50 से ज्यादा ग्रामवासियों ने किए हस्ताक्षर

वही ग्राम पंचायत प्रतिनिधि नेतराम ने आरोप लगाए हैं कि उन्हें पुनर्वास समिति में शामिल दिखाया गया है, जबकि उन्हें ना ही तो इसके बारे में कोई जानकारी है और ना ही उनसे कोई सहमति ली गई है। यह समिति पूरी तरह से फर्जी है और इसके गठन के लिए ग्राम वासियों से कोई सहमति या चर्चा नहीं की गई है। इसलिए आज एसडीएम कोटपूतली को ज्ञापन देकर इस समिति को निरस्त करवाने की मांग की गई है। एसडीएम को प्रस्तुत ज्ञापन पर मामन सिंह राजपूत, गिरिराज सिंह, हजारीलाल, रघुवीर सिंह, विजय कुमार, उमेद सिंह, भगवान सिंह, वीरेंद्र सिंह, महावीर सिंह, प्रकाश सिंह, संजय सिंह, विनोद सिंह, जलदीप योगी, महावीर सिंह, धर्मपाल योगी, जय राम कुमावत, इंद्रपाल योगी व चतर सिंह राजपूत सहित करीब 50 ग्राम वासियों ने हस्ताक्षर किए हैं।

आपको बता दें कि अल्ट्राटेक सीमेंट के विस्तार के लिए आसपास के गांव की जमीन ली जा रही है। इसी के तहत कुजोता गांव को भी दूसरी जगह बसाने की योजना है, जिसका ग्रामवासी विरोध कर रहे हैं। इस मामले में लोगों का यह भी कहना है कि कुछ लोग अपने निजी स्वार्थ के लिए कंपनी को बदनाम करना चाहते हैं तो कुछ संबंध बनाए रखने के लिए इस तरह की कार्यवाही कर रहे हैं और करवा रहे हैं। बहरहाल सच्चाई जो भी हो नुकसान ग्राम वासियों का ही होना है। – सीताराम गुप्ता

 27 total views,  1 views today

कोटपूतली राजस्थान समाचार